Let's chat about...

Baby Proofing

'‘बेबी प्रूफिंग’'

सच यह है कि हमारे घरों को ‘बेबी प्रूफ’ या ‘चाइल्ड प्रूफ’ बनाना एक मिथक। हम चाहे कितनी भी कोशिश कर लें, प्रत्येक परिवेश को 100 प्रतिशत सुरक्षित बनाना असंभव है और बच्चों को छोटी-मोटी चोटें तो लगती ही रहेंगी।

हालाँकि, दुःख की बात यह है कि, कुछ दुर्घटनाएं इतनी गंभीर होती हैं कि वह हमेशा के लिए ज़िंदगी को बर्बाद कर देती हैं। सौभाग्य से ऐसी अनेक व्यवहार्य चीज़े हैं जो हम कर सकते हैं ताकि इन दुर्घटनाओं को होने से रोका जा सके…

 

‘बेबी प्रूफिंग’ मिथक: आप क्या कर सकते हैं

Magnifying Glass

अपनी आँखें खुली रखें।

हम जानते हैं कि बच्चों पर 24/7 निगरानी रखना असंभव है। इसलिए जोखिमकारी वस्तुओं को बच्चों की पहुँच से बाहर रखने की आदत डालना महत्वपूर्ण है। तथापि, कुछ परिस्थितियाँ इतनी जोखिमकारी होती हैं, कि बच्चों को निरीक्षण के बिना रखा नहीं जाना चाहिए - विशेषतः पानी के निकट, जैसे कि बाथ में, तालाब के नज़दीक, ऊँची सतह पर या रसोई में।

Magnifying Glass

ज़रूरी नहीं है कि यह महँगे हों।

जहाँ सुरक्षा द्वार, अलमारियों के लैच जैसी चीज़ें बहुत उपयोगी हो सकती हैं, वास्तव में आपको अपने बच्चे को सुरक्षित रखने के लिए अत्यधिक खर्च करने की ज़रूरत नहीं होती हैं। आप जो सबसे महत्वपूर्ण कार्य कर सकते हैं उनमें से कई वास्तव में निःशुल्क होते हैं। उदाहरण के लिए, पुराना टॉवल डोर जैमर का काम कर सकता है और उपयोग के बाद हेयर स्ट्रेटनर को अपने स्थान पर रख देने की या गरम पेयों को पहुँच से बाहर रखने की आदत का कोई खर्च नहीं है। हमारे सलाह पृष्ठ आपको शुरुआत करने के लिए अनेक आइडिया देते हैं।

Talking

शेयर करना वास्तव में परवाह करना है।

विशेष रूप से नये माता-पिता के लिए, अन्य माता-पिताओं से सरल बातें सीखना जीवन परिवर्तन करने वाला हो सकता है। समान रूप से, आपकी कहानियों को साझा करना और अनुभवों को बताना पूर्वानुमानों को चुनौती दे सकता है, सजगता बढ़ाने में सहायता कर सकता है और अन्य लोगों को अधिक सुरक्षित चयन करने में सक्षम बना सकता है। यह एक सुखद और दुखद अंत के बीच का अंतर हो सकता है।

Join the Conversation
Lifeline
Lifeline
Brighter Beginnings Appeal
Brighter Beginnings Appeal
Brighter Beginnings Appeal

Contact Us

General Enquiries
+44 (0)121 248 2000
+44 (0)121 248 2001
help@rospa.com
Contact Form